सन्दर्भ

मन मे शांति का वास अत्यंत कठिन प्रयास है ! शांति जीवन को संतुलित करती है ! संतुलित जीवन हमारे विचार और सोच को पुनीत करता है !

क्रांति बदलाव का आधार है ! समय के साथ बदलाव की परिभाषा  बदलती रहती है ! क्रांति बदलाव के बीज से स्वफ़ुटित होती है ! क्रांति समय , समझ और बलिदान मांगती है ! असुंतुलित विचार , जल्दबाज़ी और नासमझी क्रांति के स्वरगवास के कारी हैं !

शांति से क्रांति का पटल ऐसे विचारो का समर्थन करता है जो क्रांति , संतुलित होकर , समय और समाज को समझ कर शांति से क्रांति की ओर कदम बड़ाये !

समय समय पर मे अपने शांति से क्रांति के  विचार अलग अलग रूप और आकार मे प्रस्तुत करता रहूँगा !

@राहुल देवेश्वर

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s