कॉर्पोरेट सोशियल रेस्पोंसियब्लिटी – स्वेच्छाकृत निर्देश

कॉर्पोरेट सोशियल रेस्पोंसियब्लिटी – स्वेच्छाकृत निर्देश

कॉर्पोरेट सोशियल रेस्पोंसियब्लिटी के निर्देश खोज रहा था , मालूम हुआ की , कॉर्पोरेट सोशियल रेस्पोंसियब्लिटी के निर्देश नही स्वेच्छाकृत निर्देश है !

मोटे मोटे तौर पर समाज कल्याण मे भागीदारी के सुझाव दिए गए हैं ! परंतु यह जान कर हर्ष हुआ की सरकार ने भी स्वेच्छाकृत निर्देश दिए हैं की आप पहले अपना घर साफ रखे फिर समाज कल्याण से जुड़े मुद्दो पर काम करे !

मेरी समझ के अनुसार जयदा तनख़्वा दे कर अपने कर्मचारियों का मूह बंद कर देना किसी भी रूप मे समाज कल्याण नही !

कॉर्पोरेट सोशियल रेस्पोंसियब्लिटी के स्वेच्छाकृत निर्देश , कारपोरेट मंत्रालय द्वारा निर्मित किए गये हैं ! निर्देश संख्या चार Respect for Human Rights है , जो कहता है की कंपनी को अपने अधिकारियों के मानव अधिकारो की रक्षा करनी है , अपनी ओर से या कोई भी ऐसी कंपनी से भी जो परोक्ष रूप से जुड़ी हो !

फिर पाँच पर रेस्पेक्ट फॉर एन्वाइरन्मेंट है , जो कहता है की कंपनी को वातावर्ण नियमो का पालन करना होगा , पुनः प्रयोग , व्यर्थ प्रयोग का कुछ प्रबन्ध करना होगा एवम् उसे घटाना होगा , पोषणीय रूप से प्राकृतिक संपदाओ का प्रयोग करना होगा ! ज़मीन , जल जॅंगल का प्रयोग ऐसा करना होगा जो जलवायु को प्रभावित ना करे ! उत्पादन तकनीको मे वातावरण के अनुसार सुधार लाना होगा !

रेस्पेक्ट फॉर वर्कर्स’ राइट्स आंड वेलफेर के अनुसार मंत्रालय कहता है की , कार्यस्थल पर्यावरण विश्वसनीय हो , स्वास्थ्यकर हो , मानवीयता से भरा हो !

चिराग ले कर निकले तो एक दो कंपनी मिल जाए शायद जो ऐसा करती होंगी !

अंत मे इक छोटे से हिस्से मे कॉर्पोरेट सोशियल रेस्पोंसियब्लिटी स्वेच्छाकृत निर्देश कहते हैं की कंपनी अपने आस पास समाज कल्याण से जुड़ा कोई मुद्दा उठा कर उस पर काम करे ! दिशा निर्देश निर्धारित करे ! खुद सोचे की वो कितना पैसा खर्च कर सकती है और करे !

अवलोकन कहता है की , कॉर्पोरेट सोशियल रेस्पोंसियब्लिटी वाहा वाही लूटने का एक सरकारी हथियार बन गया है ! गली मोहल्लो , सड़को से नंगे बच्चो को ढूंड , उनके साथ कोट पेंट मे ग्रूप फोटो खिचवा लेना , फिर अपने पी आर से बड़े बड़े आर्टिकल्स लिखवा कर दो चार अवॉर्ड जीत लेना !

कॉर्पोरेट सोशियल रेस्पोंसियब्लिटी आज एक पी आर की स्राजनात्मक गतिविधि बन कर रह गई है ! उपर उपर से ऐसा ही लगता है ही अच्छा काम हो रहा है साथ देना चाहये , अनद गर्भ मे सब काला है !

@ राहुल योगी देवेश्वर

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s